शराब हृदय के लिए कैसे खराब है?

शराब हृदय के लिए कैसे खराब है?


हालांकि शराब की थोड़ी सी मात्रा नुकसान नहीं पहुंचाती है यहाँ तक कि यह सौहार्दपूर्ण सामाजिक मेलजोल और विश्राम दोनों के लिए फायदेमंद हो सकती है, एक दिन में व्हिस्की के दो औंस से अधिक शराब का भारी मात्रा में सेवन या इसके बराबर दो ग्लास बीयर या दो ग्लास शराब हानिकारक है न केवल यकृत और पेट के लिए बल्कि हृदय के लिए भी, इससे उच्च रक्तचाप और रक्त में हानिकारक वसा के रूप में होता है, जो दिल के दौरे के जोखिम कारक हैं। ट्रैफिक, दुर्घटना, मृत्यु, तलाक, और काम से अनुपस्थिति जैसी सामाजिक समस्याओं के लिए ज्यादा शराब पीना भी जिम्मेदार है।
“ऐसी कोई भी न्यूनतम सीमा नहीं है जिससे कम शराब का सेवन बिना किसी जोखिम के किया जा सकता है। शराबखोरी को दुनिया की कुछ सबसे गंभीर समस्याओं के लिए दोषी ठहराया जा सकता है। जितना कम आप पियेंगे, बेहतर रहेगा”।

क्या मैं रेड वाइन ले सकता हूँ?
नहीं, हृदय रोगी रेड वाइन नहीं ले सकते। हालांकि रेड वाइन सहित सभी शराब रक्त में एचडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाते हैं, साथ ही वे ट्राइग्लिसराॅइड स्तर को भी बढ़ाते हैं, जो ब्लॉकेज के लिए जिम्मेदार हैं। इसलिए उन्हें रेड वाइन सहित शराब से बचना चाहिए।

नमक और उच्च रक्तचाप
क्या हृदय रोगियों के लिए नमक पर कोई प्रतिबंध है?
हृदय रोगियों के लिए नमक पर कोई प्रतिबंध नहीं है। यदि उच्च रक्तचाप हृदय रोग से संबद्ध है तो नमक का सेवन प्रतिबंधित होना चाहिए। इसके अलावा कम पंपिंग शक्ति वाले रोगी को नमक को 5 ग्राम / दिन से कम लेना चाहिए।