आमला के फायदे

आमला के फायदे

आयुर्वेद की दवाओं में आंवला सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली जड़ी बूटी है। आंवला के कई पौष्टिक लाभ हैं। ताजे फलों में 80% से अधिक पानी, के अतिरिक्त प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, खनिज, विटामिन (मुख्य रूप से कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, कैरोटीन, विटामिन सी और बी कॉम्प्लेक्स) मौजूद होते है। इसमें एक संतरे से 20 गुना अधिक विटामिन सी होता है। आंवले में मौजूद, विटामिन सी उसे पकाने पर कम नहीं होता।
आयुर्वेदिक विशेषज्ञों के अनुसार, आंवले के नियमित उपयोग से हमारा लीवर हमेशा जवान रहता है। यह हमारे इम्यून सिस्टम को भी बूस्ट करता है और हमें सभी बीमारियों से दूर रखता है।

स्वास्थ्य लाभ

1.) यह कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करता है।
2.) इसमें मधुमेह विरोधी क्षमता है। रोजाना आंवला, जामुन और करेले के पाउडर का एक चम्मच लें। यह ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करता है।
3.) यह लीवर फंक्शन को बेहतर बनाने में मददगार है।
4.) यह अपच, एसिडिटी, कब्ज के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक इलाज है।
5.) आँखों की रोशनी को बेहतर बनाने में इसका बहुत अच्छा अनुप्रयोग है।
6.) यह एक विरोधी भड़काऊ एजेंट के रूप में भी काम करता है जिससे दर्द और सूजन को दबा दिया जाता है।

खुराक

सूखा आंवला और चीनी का एक पीसा हुआ मिश्रण तैयार करें। इस मिश्रण का एक चम्मच, एक गिलास पानी में मिलाएं और रोजाना खाली पेट इसका सेवन करें। यह घोल ब्लड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है।